Health

टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा

टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा Homeopathic Medicine For testosterone

आप सभी को पता होगा कि हमारे शरीर में कई अलग-अलग प्रकार के हार्मोन होते हैं. अगर इन हारमोंस का समय पर विकास नहीं होता तो इससे हमारे शरीर में काफी अलग-अलग तरह की परेशानी व समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं.

धीरे-धीरे यह समस्याएं हमें अलग-अलग प्रकार की बीमारियों की तरफ धकेल देती हैं. इसलिए इन सभी हारमोंस का संतुलन में रहना बहुत जरूरी हैं. अगर इनमें से किसी भी हारमोंस में कमी या वृद्धि हो जाती हैं. तो यह हमारे लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं.

ऐसा ही एक हार्मोन टेस्टोस्टेरोन भी होता हैं. जो कि हमारे शरीर के विकास के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं. लेकिन कई बार टेस्टोस्टेरोन की शरीर में कमी हो जाती हैं.

तो आज इस ब्लॉग में हम आपको टेस्टोस्टेरोन क्या होता हैं. टेस्टोस्टेरोन की कमी के कारण, लक्षण व इसकी होम्योपैथिक दवा के बारे में बताने वाले हैं.

टेस्टोस्टेरोन क्या होता है

What is testosterone in Hindi – हमारे शरीर में कई अलग-अलग तरह के हारमोंस होते हैं. और आयु के साथ-साथ यह हारमोंस बदलते रहते हैं. लेकिन हमारे शरीर में कुछ ऐसे महत्वपूर्ण हारमोंस भी होते हैं. जो कि हमारे शरीर के विकास के लिए जरूरी होते हैं. टेस्टोस्टेरोन भी एक ऐसा ही हार्मोन होता हैं.

जो कि हमारे शरीर के विकास के लिए जरूरी होता हैं. इस हारमोंस से हमारे शरीर की मांसपेशियों, हड्डियों और योन कार्यों में वृद्धि होती हैं. टेस्टोस्टेरोन एक सेक्स हार्मोन होता हैं. जो कि महिलाओं और पुरुषों दोनों में पाया जाता हैं. यह हार्मोन महिलाओं के अंडाशय और पुरुषों के वृषण में होता है.

लेकिन महिलाओं के मुकाबले में पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा अधिक होती हैं. और पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का महत्व महिलाओं से ज्यादा होता हैं. क्योंकि यह हमारे शुक्राणु को पैदा करने में मदद करता हैं. अगर किसी इंसान के शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी आती हैं.

तो इसका सीधा असर उसके शारीरिक विकास, हड्डियों की मजबूती और सेक्स कार्यों पर दिखाई देता हैं. लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं. कि किसी इंसान के शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी हो जाती हैं.

तो वह उसको बढ़ा नहीं सकता क्योंकि बहुत सारी ऐसी होम्योपैथिक दवाएं आती हैं. जिसकी मदद से कोई भी इंसान अपने टेस्टोस्टेरोन हार्मोन में वृद्धि कर सकता है.

टेस्टोस्टेरोन की कमी के कारण

Causes of testosterone deficiency in Hindi – बहुत सारे लोगों का ऐसा मानना हैं. कि शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी अपने आप होती हैं. लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं. इस स्थिति के उत्पन्न होने के पीछे काफी सारे कारणों का हाथ हो सकता हैं. जैसे

  • रोगी के अंडाशय का आकार छोटा होना
  • रोगी के शरीर में ग्लूकोज की कमी होना
  • रोगी का ज्यादा कठोर कार्य करना
  • रोगी का ज्यादा बीड़ी शराब सिगरेट जैसी नशीली वस्तुओं का सेवन करना
  • रोगी का ज्यादा तले भुने हुए भोजन का सेवन करना
  • रोगी की यौनांगों पर चोट लगना
  • रोगी का ज्यादा हस्तमैथुन व संभोग करना
  • रोगी का ज्यादा सेक्स सप्लीमेंट का इस्तेमाल करना
  • रोगी के हारमोंस शरीर में हारमोंस पैदा करने वाली पिट्यूटरी ग्रंथि में बीमारी होना
  • रोगी का कीमोथेरेपी और रेडिएशन जैसी चीजों से उपचार करवाना
  • रोगी को प्रोस्टेट कैंसर होना
  • रोगी के शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ना
  • रोगी के फेफड़ों में सूजन होना

इसके अलावा भी किसी इंसान के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी के पीछे काफी सारे और अलग-अलग कारण हो सकते हैं

टेस्टोस्टेरोन की कमी के लक्षण

Symptoms of Testosterone Deficiency in Hindi – जब भी किसी इंसान के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी होती हैं. तब इस स्थिति के उत्पन्न होने पर रोगी में काफी सारे अलग-अलग लक्षण दिखाई देते हैं. जिससे रोगी इस समस्या को आसानी से पहचान सकता हैं. जैसे

  • रोगी का मानसिक तनाव व बेचैनी महसूस करना
  • रोगी के शरीर में थकान व आलस्य रहना
  • रोगी का स्वभाव चिड़चिड़ा होना
  • रोगी की एकाग्रता में कमी आना
  • रोगी का किसी भी काम में मन न लगना
  • रोगी का काम करते समय जल्दी थक जाना
  • रोगी के शरीर में वीर्य की कमी होना
  • रोगी को दाढ़ी मूछें कम आना
  • रोगी के शरीर पर बालों की कमी होना
  • रोगी की मांसपेशियों में ताकत की कमी होना
  • रोगी का वजन अचानक से कम या ज्यादा होना
  • रोगी के लिंग में तनाव की कमी आना
  • रोगी का संभोग का सुख प्राप्त न कर पाना
  • रोगी की संभोग इच्छा में कमी होना
  • रोगी को बार-बार अधिक पसीना आना
  • रोगी की मांसपेशियां ढीली होना
  • रोगी को यौनांगों से संबंधित बीमारियां होना

इसके अलावा भी शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी होने पर काफी सारे और लक्षण दिखाई दे सकते हैं

टेस्टोस्टेरोन की कमी की होम्योपैथिक दवा

Homeopathic medicine for testosterone deficiency in Hindi – अगर आपके अंदर टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी आ गई हैं. तब आप इस समस्या को होम्योपैथिक दवाएं के जरिए भी ठीक कर सकते हैं. बहुत सारी ऐसी होम्योपैथिक दवाएं आती हैं. जो कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी को पूरा करने का काम करती है.

  1. कैलेडियम सेगुइनम 30 CH (Caladium Seguinum 30 CH)

जब भी आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी आती हैं. तब इस स्थिति के उत्पन्न होने पर आपके शरीर पर बालों की कमी देखी जाती हैं. और इसी वजह से आपकी मूछें दाढ़ी भी कम आती हैं. या मुझे दाढ़ी आने में काफी समय लग जाता हैं.

ऐसी स्थिति में आपको होम्योपैथिक दवा कैलेडियम सेगुइनम 30 CH (Caladium Seguinum 30 CH) का सेवन करना चाहिए यह दवा आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी को पूरा करने का काम करती हैं. जिससे आपके शरीर में काफी सारी समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है.

2. बैराइटा कार्बनिका (baryta carbonica)

बहुत सारे लोगों में टेस्टोस्टेरोन की कमी आने पर कामेच्छा की कमी देखने को मिलती हैं. और वह संभोग का चरम सुख भी नहीं ले पाते ऐसी स्थिति उत्पन्न होने पर आप होम्योपैथिक दवा बैराइटा कार्बनिका (baryta carbonica) का सेवन कर सकते हैं.

यह दवा आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी को पूरा करती हैं. उससे आपकी कामेच्छा में भी वृद्धि होती है.

3. टेस्टिस सिक्काती 3X (Testis Ciccati 3X)

जब भी किसी इंसान में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी आती हैं. तब रोगी के शुक्राणु में काफी कमी आ जाती हैं. और इससे रोगी कामेच्छा में सही से परफॉर्मेंस नहीं दे पाता.

ऐसी स्थिति उत्पन्न होने पर आप होम्योपैथिक दवा टेस्टिस सिक्काती 3X (Testis Ciccati 3X) का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर यह आपके शरीर में शुक्राणु की संख्या बढ़ाती हैं. और इससे आपकी कोशिकाएं भी मजबूत होती है.

4. एवेना सैटाइवा (avena sativa)

एवेना सैटाइवा (avena sativa) होम्योपैथिक दवा भी शरीर में हारमोंस की कमी को पूरा करने के लिए काफी फायदेमंद मानी गई हैं. इस दवाई का नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर यह आपके शरीर में शुक्राणुओं की संख्या को भी बढ़ाती हैं.

इससे आपके शरीर में काफी सारी दूसरी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता हैं. इसका हर रोज सुबह शाम इस्तेमाल करने पर यह आपको टेस्टोस्टेरोन की कमी से छुटकारा दिला देती है.

इसके अलावा भी बहुत सारी ऐसी और होम्योपैथिक दवाई आती हैं. जो कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की कमी को पूरा करने का काम करती हैं. लेकिन इनमें से किसी भी दवाई का इस्तेमाल करने से पहले आपको किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए.

हम उम्मीद करते हैं. कि हमारे द्वारा बताई गई टेस्टोस्टेरोन की कमी के बारे में जानकारी आपको पसंद आई होगी तो यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हैं. और आप ऐसी ही और जानकारियां पाना चाहती हैं. तो आप हमारी वेबसाइट को जरूर विजिट करें.

high blood pressure treatment,best homeopathic treatment of high blood pressure,homeopathy medicine for high blood pressure,high blood pressure symptoms, 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button