Health

धतूरे के पत्तों बीजों का सेवन करने से क्या-क्या दुष्प्रभाव होते हैं

धतूरे के पत्तों बीजों का सेवन करने से क्या-क्या दुष्प्रभाव होते हैं

वैसे तो दुनिया में कई अलग-अलग प्रकार की बीमारियां हैं जिनसे हमारी जान भी जा सकती है लेकिन कई समस्याएं ऐसी होती है जो कि हमारे किसी गलत चीज के सेवन के कारण होती है और इनसे हमारी जान जा सकती है आप सभी को पता हो कि हमारे धरती के ऊपर ऐसी अनेक जड़ी बूटियां है जो कि हमारे लिए बहुत फायदेमंद होती है.

लेकिन हमारी धरती के ऊपर कुछ ऐसे पेड़ पौधे भी जो कि हमारे लिए जानलेवा साबित हो सकते हैं इसलिए हमें इन सभी पौधों से बच कर रहना चाहिए तो इस ब्लॉग में हम ऐसे ही एक पौधे के बारे में बातें करने वाले हैं

इस ब्लॉग में हम आपको धतूरा के पौधे के जहर के बारे में बताएंगे धतूरा के पौधे को निकलने पर होने वाले दुष्प्रभाव इसके कारण लक्षण बचाव व उपचार आदि के बारे में बात करने वाले हैं.

धतूरे के पौधे का जहर क्यों फायदेमंद  होता है ?

Why is the poison of Datura plant beneficial? in Hindi – धरती के ऊपर कई ऐसे पेड़ पौधे हैं जिनका सही तरह से उपयोग करने पर हमारे लिए बहुत फायदेमंद होते हैं लेकिन अगर इन चीजों का गलत तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो इससे हमारी जान भी जा सकती है या हमारे शरीर पर इससे बहुत सारे बुरे दुष्प्रभाव पड़ सकते हैं

धतूरे का पौधा भी एक ऐसा ही पौधा है धतूरे का पौधा हमारे आसपास की है खाली पड़े खेत या खाली जगह में होता है धतूरा एक बहुत ही खतरनाक और जहरीला पौधा होता है इसके ऊपर खतरनाक जहरीले बीज, फूल होते हैं जो की बहुत सारी दवाइयों को बनाने में इस्तेमाल किया जाता है वैसे तो धतूरा हमारे लिए फायदेमंद होता है

अगर हम इसका सही तरीके से इस्तेमाल करें करते हैं लेकिन बहुत सारे लोग इसका गलत इस्तेमाल करते हैं अपराधी, चोर, लुटेरे, डाकू हत्यारे जैसी प्रवृत्ति के लोग इस पौधे का गलत फायदा उठा कर दूसरों की जान भी ले लेते हैं क्योंकि कई लोग इस पौधे के बीजों को खाने की चीजों में मिलाकर दूसरों को दे देते हैं

जिनसे कई बार रोगी की जान चली जाती है और अगर किसी इंसान की जान नहीं जाती तब भी उसके शरीर पर इसके खाने से कई प्रकार के अलग-अलग दुष्प्रभाव दिखाई देते हैं और उसको कई अलग-अलग समस्याएं होने लगती है

धतूरे के पौधे का जहर खाने क्या कारण  है ?

What is the reason for consuming poison of Dhatura plant? in Hindi अगर किसी इंसान के शरीर में धतूरे के पौधे की के दुष्प्रभाव के कारणों के बारे में बात की जाए तो इस समस्या के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं लेकिन इसका मुख्य कारण रोगी के शरीर में धतूरे के पौधे या उसके बीजों का जाना होता है जैसे रोगी का अनजाने में इसके पौधे या बीजों का खाना

अपराधी प्रवृत्ति के लोगों का किसी चीज में मिलाकर किसी इंसान को इसके पौधे या बीजों खिला देना, किसी दवाई के रूप में इस्तेमाल करने पर इसकी मात्रा कम या ज्यादा होना,

बिना किसी से जानकारी लिए इसकी दवाइयां आदि बनाना या इसके खाने पर रोगी के शरीर में एलर्जी होना आदि इसके कई अलग-अलग कारण होते हैं जिनसे रोगी के शरीर में धतूरे का जहर फैल जाता है और इससे रोगी की मृत्यु भी हो सकती है

धतूरे के पौधे का जहर खाने क्या लक्षण है ?

What are the symptoms of being poisoned by the Dhatura plant? in Hindi – अगर कोई इंसान गलती से धतूरे के पौधे या उसके बीज को खा लेता है तब रोगी में इसके कई अलग-अलग लक्षण भी दिखाई देते हैं जिससे रोगी इसको आसानी से पहचान सकता है जैसे खाने के लगभग 30 मिनट बाद रोगी का मुंह,

गला बिल्कुल शुष्क हो जाते हैं,रोगी का मुंह कड़वा हो जाता है रोगी के पेट में जलन व दर्द होने लगता है, रोगी को खाने पीने बोलने व निगलने में दिक्कत होने लगती है, इसके अलावा रोगी को चक्कर आना, रोगी का चेहरा लाल होना और बेहोशी की हालत भी हो सकती है,

रोगी की त्वचा बिल्कुल शुष्क और गरम हो जाती है, रोगी के शरीर का तापमान अचानक बढ़ने लगता है, रोगी की मांसपेशियां बिल्कुल ढिल्ली नजर आने लगती है, रोगी की आंखों की पुतलियां फैलने लगती है, रोगी को धीरे धीरे नींद आने लगती है, रोगी को देखने में परेशानी होती है, एक चीज रोगी को दो दिखाई देने लगती है,

रोगी को घुटन व उल्टी की समस्या होने लगती है, रोगी की नाड़ी की गति सामान्य से बढ़ जाती है या कई बार रोगी की नाड़ी की गति कम हो जाती है, रोगी को बार-बार उठ कर भागने का मन करता है, रोगी के हाथ पैरों में कंपन होने लगती है, धीरे-धीरे इसके जहर का असर होने पर रोगी को सांस लेने में भी तकलीफ होने लगती है,

अगर कोई इंसान ज्यादा मात्रा में इसका सेवन कर जाता है कर लेता है तब उससे रोगी की मृत्यु भी हो सकती है इसके अलावा अगर किसी इंसान को 2 से 3 घंटे के बीच में उपचार दिया जाए तो उसको बचाया भी जा सकता है

धतूरा पौधे के जहर का इलाज कैसे करें ?

How to Treat Datura Plant Poisoning in Hindi – अगर कोई इंसान गलती से धतूरे के पत्ते या उसके बीजों को खा लेता है तब उसके शरीर में काफी समय तक इसका प्रभाव देखने को मिलता है और उसके शरीर में अलग-अलग बदलाव भी आते हैं लेकिन इसका नशा उतरने के बाद भी रोगी में इस समस्या के कई लक्षण दिखाई देते हैं

जैसे रोगी का बहकी बहकी बातें करना, रोगी का डिप्रेशन में चला जाना, रोगी को का स्वभाव चिड़चिड़ा होना आदि इसलिए कोई भी इंसान गलती से इसके बीजों या पत्तों को खा लेता है तो उसको जल्दी से जल्दी तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए डॉक्टर आपको कम करने के लिए अलग-अलग प्रकार की दवाइयां देते हैं

बहुत सारे लोग इस पौधे के पत्तों के बीजों को नशे के तौर पर इस्तेमाल करते हैं क्योंकि इसका नशा ड्रग्स की कैटेगरी में आता है और अपराधी प्रवृत्ति के लोग इसका बड़ी चाव से इस्तेमाल भी करते हैं

इसलिए अगर आप इसके पत्तों व बीजों का सेवन करते हैं तब आपको इससे कोई भी फायदा नहीं पहुंचने वाला इससे आपके शरीर में कई अलग-अलग समस्याएं उत्पन्न होगी और इससे आपकी जान भी जा सकती है

हालांकि यह पौधा एक ऐसा पौधा है जिसका कई प्रकार की अलग-अलग दवाइयों को बनाने में इस्तेमाल किया जाता है और यह हमारे लिए बहुत फायदेमंद भी होता है लेकिन सीधा इस पौधे के पत्तों में बीजों का इस्तेमाल करना हमारे लिए हानिकारक ही होता है

धतूरे के पत्तों बीजों का सेवन करने से क्या-क्या दुष्प्रभाव होते हैं धतूरा के फायदे और नुकसान धतूरे का पेड़ घर में लगाना चाहिए धतूरा खाने से क्या आदमी मर जाता है धतूरे का सेवन कैसे करें धतूरा के फूल के फायदे क्या धतूरा जहर है छोटा धतूरा के फायदे धतूरा खाने से क्या नुकसान होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button