Health

मानसिक कमजोरी के कारण लक्षण बचाव व उपचार

मानसिक कमजोरी के कारण लक्षण बचाव व उपचार

जब हम किसी चीज के बारे में सोचते हैं या किसी काम को करने के बारे में सोचते हैं तो सबसे पहले हम अपने दिमाग में उस चीज को याद करते हैं और हमारे दिमाग में उस चीज से संबंधित चित्र भी बनने लगते हैं आपने बहुत बार सुना हुआ कई लोग बोलते है उस इंसान का दिमाग कम चलता है.

उस इंसान में दिमाग नहीं है जिसको हम बुद्धिमन्दता भी बोल सकते हैं तो इस ब्लॉग में हम इसी बुद्धिमन्दता के बारे में विस्तार से बातें करने वाले हैं इस ब्लॉग में हम बुद्धिमन्दता के कारण लक्षण उपचार बचाव के बारे में जानेंगे.

मानसिक में कमजोरी कैसे होती है

How does mental weakness occur? in Hindi – हर इंसान के लिए उसका दिमाग सही होना बहुत जरूरी होता है अगर किसी इंसान का दिमाग सही तरीके से काम नहीं करता है तब उसका शरीर चाहे कितना भी फिट हो वह उसको सही कामों में इस्तेमाल नहीं कर पाएगा आपने देखा हो कि बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो कि शारीरिक रूप से तो बहुत ज्यादा ताकतवर होते हैं

लेकिन उनका दिमाग सही नहीं होता वे बहकी बहकी बात करते हैं और उनके काम करने का भी तरीका अलग होता है उनको जितना भी समझाओ वह किसी काम को सही नहीं कर पाते हैं ऐसा उनकी बुद्धिमन्दता के कारण ही होता हैं यह समस्या बच्चे के पैदा होने से लेकर उसकी पूरी जिंदगी तक साथ रहती है

और कई बार यह समस्या किसी सामान्य आदमी के साथ दुर्घटना या हादसे के दौरान भी हो जाती है यह समस्या उत्पन्न होने पर ग्रस्त व्यक्ति सामान्य इंसानों के मुकाबले में कम समझदार होता है और वह एक बात को एक बार में नहीं समझ पाता

मानसिक मंदता के मुख्य प्रकार कौन से है

What are the main types of mental retardation in Hindi – मानसिक मंदता समस्या कई अलग-अलग प्रकार की होती है और इन सभी में रोगी अलग-अलग गतिविधियां करता है और इन सभी के अलग-अलग कारण व लक्षण होते हैं जैसे खुद की देखभाल न करना, रोगी की दैनिक जीवन आदते,

सामाजिक कौशल सामुदायिक संपर्क व बोलचाल खुद के प्रति संचालन रोगी की अवस्था और सुरक्षा शुकुल की रोगी के  रोगी के खाली समय की गतिविधियां, रोगी के किसी दूसरे के साथ बात करने का तरीका वह इसके अलावा कई अन्य काम करने की गतिविधियां व आदतें यह कई ऐसे प्रकार है जो कि मानसिक मंदता के अंतर्गत आते हैं और इनमें रोगी अलग-अलग गतिविधियां करता है

मानसिक में कमजोरी होने के क्या  कारण है

What are the reasons for mental weakness? in Hindi – अगर मानसिक मंदता के कारण के बारे में बात की जाए तो इस समस्या के कई अलग-अलग कारण होते हैं जैसे रोगी का एकल जीवन बिताना, रोगी में क्रोमोसोम संबंधित विकार उत्पन्न होना, रोगी के ऊपर मातृत्व या पर्यावरण का प्रभाव होना,

रोगी के शरीर में आयोडीन या फोलिक एसिड पोषक तत्वों की कमी होना, रोगी का गर्भावस्था में कुपोषण का शिकार होना, गर्भावस्था के दौरान रोगी की माता का अल्कोहल, कोकीन जैसी नशीली चीजों का सेवन करना, गर्भावस्था के दौरान ज्यादा दवाओं आदि का इस्तेमाल करना,

इसके अलावा रोगी को जरूरतमंद पोषक तत्वों न मिलना, रोगी के साथ किसी घटना या कोई हादसा होना, रोगी के दिमाग पर चोट लगना इसके अलावा इस समस्या के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं

मानसिक में कमजोरी होने के क्या लक्षण है

What are the symptoms of mental weakness? in Hindi – अगर इस समस्या के लक्षणों के बारे में बात की जाए तो इस समस्या के उत्पन्न होने पर रोगी के अंदर कई अलग-अलग प्रकार के लक्षण दिखाई देते हैं जैसे रोगी का एक बार में बात में समझ पाना रोगी का बार-बार किसी काम को गलत करना

रोगी का बहकी बहकी बात करना रोगी का अपने आप की देखभाल नहीं करना रोगी का खाली समय में गलत गतिविधियां करना रोगी की गतिविधियां दूसरों के लिए गलत साबित होना रोगी का खुद को हानि पहुंचाना रोगी का किसी दूसरे के प्रति क्रोधित होना, रोगी में बार-बार किसी बीमारी का उत्पन्न होना, रोगी का ऐसी मांगे करना जिन को पूरा करना कठिन होता है

रूबी का स्कूल में दूसरे बच्चों के प्रति दूर व्यवहार करना बच्चे का बार बार किसी एक बात के ऊपर जिद करना,रोगी का शारीरिक व मानसिक रूप से कमजोर हो जाना इसके अलावा भी इस समस्या के उत्पन्न होने पर रोगी में अलग-अलग लक्षण दिखाई देते हैं जो कि एक सामान्य व्यक्ति के अंदर देखने को नहीं मिलते हैं

मानसिक में कमजोरी से बचाव

Prevention of mental weakness in Hindi – वैसे तो यह समस्या रोक पाना नामुमकिन होता है लेकिन यदि आप अपने बच्चे को सही सलाह देते हैं और उसके कुछ बातों का ध्यान रखते हैं तब आप अपने बच्चे की समस्याओं को आगे बढ़ने से रोक सकते हैं जैसे

  • बच्चे के दिमाग पर चोट लगने के तुरंत बाद डॉक्टर के पास जरूर ले जाना चाहिए
  • आपको अपने बच्चे की खानपान के ऊपर ध्यान देना चाहिए
  • आपको अपने बच्चे को सभी प्रकार के पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ खिलाने चाहिए
  • आपको अपने बच्चों को अकेला नहीं छोड़ना चाहिए और उसके साथ हंसते बोलते रहना चाहिए
  • आपको अपने बच्चे को उचित मात्रा में आयोडीन देना चाहिए
  • इसके अलावा आपको अपने बच्चे को फोलिक एसिड की टेबलेट भी जरूर देनी चाहिए
  • अगर आपके बच्चे में आयरन या कैलोरी की कमी है तब इस को पूरा करने के लिए आपको उनसे संबंधित सप्लीमेंट जरूर देनी चाहिए
  • गर्भावस्था के दौरान इस बात का ध्यान जरूर रखना चाहिए कि आपके बच्चे को कुपोषण में न हो
  • गर्भावस्था के दौरान बच्चे की माता को नशीली चीजों का सेवन नहीं करने देना चाहिए
  • आपको अपने बच्चों को 1 से 5 वर्ष की आयु के बीच मिलने वाले सभी प्रकार के टीकाकरण करवाने चाहिए
  • आपको अपने बच्चे को सभी प्रकार के टेस्ट करवाने चाहिए

मानसिक में कमजोरी को ठीक करने के घरेलू उपचार

Home remedies to cure mental weakness in Hindi – वैसे तो इस समस्या का उपचार हो पाना नामुमकिन होता है लेकिन यदि आप अपने बच्चे को नियमित रूप से डॉक्टर की देखरेख में रखते हैं तब आप इस समस्या को आगे बढ़ने से रोक सकते हैं और अपने बच्चे को किसी दूसरी समस्या से ग्रस्त होने से बचा सकते हैं

और अगर आपके बच्चे में इस समस्या के शुरुआती लक्षण है या आपके बच्चे में किसी चोट लगने के कारण यह सXमस्या उत्पन्न हुई है तब डॉक्टर इस समस्या को नियंत्रण में भी कर सकते हैं इसके लिए आपको अपने बच्चे को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए

फिर भी अगर किसी इंसान की दिमाग में यह समस्या उत्पन्न होती है तब उसको ज्यादा से ज्यादा योग प्राणायाम व ध्यान आदि करने चाहिए वह आपको तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से मिलना चाहिए

मानसिक कमजोरी के कारण लक्षण बचाव व उपचार मानसिक रोग की टेबलेट शरीर में थकान और कमजोरी के कारण मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति के लक्षण मानसिक रोग दूर करने के घरेलू उपाय मानसिक तनाव से मुक्ति के उपाय आलस्य और थकान के कारण थकान और कमजोरी के लक्षण मानसिक रोग के लिए आयुर्वेदिक दवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button