Health

सिर में जलन में खुजली के कारण लक्षण बचाव व उपचार

सिर में जलन में खुजली के कारण लक्षण बचाव व उपचार

कई बार बदलते मौसम के कारण या अपने आप हमारे सिर व कानों के आसपास कुछ ऐसी फुंसियां निकल जाती है जिनके ऊपर खुजाने से त्वचा पर घाव हो जाते हैं और फिर हमारे सिर के आसपास के भागो में जलन होने लगती है और यह जलन धीरे-धीरे बढ़ती जाती है इस समस्या से काफी लोग परेशान होते हैं

तो इस ब्लॉग में हम इसी समस्या के बारे में बातें करने वाले हैं इस ब्लॉग में हम सिर में फुंसी निकलने व जलन होने के कारण लक्षण बचाव व उपचार के बारे में विस्तार से जानेगे.

सिर में फुंसी निकलने व जलन होना

Pimples and burning sensation on head in Hindi – कई बार आपने देखा होगा कि बहुत सारे लोगों के चेहरे गर्दन का मजा सिर में बारिक फुंसियां निकलने लगती है यह एक प्रकार की सिर उत्पन्न होने वाले मुहासे होते हैं एक जगह पर इतनी ज्यादा फुंसियां हो जाती है कि उनको खो जाने पर उनके अंदर घाव हो जाता है

और फिर कुछ समय बाद उस घाव में जलन उत्पन्न होने लगती है वह घाव में पानी चला जाए चले जाने के कारण पीले रंग का मवाद व पिप भी निकलने लगता है यह एक बहुत बड़ी समस्या है क्योंकि अगर रोग के ऊपर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जाता है

तब यह रोग दूसरी बीमारियों का कारण बन सकता है जैसे अस्थमा, पतले दस्त, महिलाओं में प्रदर रोग, आदि इसके अलावा बच्चों में इस समस्या के कारण गठिया, वात रक्त, नाड़ी संस्थान की निर्बलता, मूत्र में शक्कर आना, कब्ज़ आदि

सिर में फुंसी निकलने के कारण है ?

What is the reason for pimples on the head? in Hindi – इस समस्या के कारणों के बारे में बात की जाए तो वैसे तो इस समस्या के उत्पन्न होने के पीछे हमारे जीवन शैली में बदलाव या गलत खान-पान को ही माना गया है इसके अलावा इस समस्या के कुछ और कारण हो सकते हैं जैसे ज्यादा उत्तेजक पदार्थों का सेवन करना, ज्यादा हमेशा मसालेदार भोजन का सेवन करना,

तले हुए भोजन का सेवन करना, ज्यादा शराब बीड़ी सिगरेट तंबाकू गुटखा का सेवन करना, शरीर के संतुलन का बिगड़ना, हार्मोन में बदलाव होना, शरीर में गर्मी होना, ज्यादा उत्तेजक पेय पदार्थ जैसे कड़क चाय, कॉफी का सेवन करना,

ज्यादा एलोपैथिक दवाओं का इस्तेमाल करना,ज्यादा मसालेदार भोजन का सेवन करना, दूषित भोजन का सेवन करना, दूषित पानी का सेवन करना समस्या के कुछ कारण होते हैं इसके अलावा भी समस्या की कई और कारण हो सकते हैं

सिर में फुंसी निकलने के लक्षण है ?

Are there symptoms of pimples on the head? in Hindi – अगर इस समस्या के लक्षणों के बारे में बात की जाए तो इस समस्या के उत्पन्न होने पर रोगी में कई अलग-अलग प्रकार के लक्षण भी दिखाई देते हैं जैसे रोगी के सिर में तेज खुजली होना, रोगी के सिर में जलन होना, रोगी के सिर में हो रही खुजली से बाल झड़ना, रोगी की फुंसियों में घाव हो जाना,

फुंसियों से पीप व मलाद निकलना, रोगी को हल्का बुखार, कमजोरी, थकान व चिड़चिड़ापन होना, रोगी के गर्दन कान चेहरे पर फुंसियां निकलना, रोगी की त्वचा का रंग लाल हो जाना, इस समस्या के लक्षण होते हैं इसके अलावा भी अलग-अलग लक्षण दिखाई देते हैं

बचाव

अगर आप इस समस्या से बचाना चाहते हैं तब आपके लिए कुछ ऐसी बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है जो कि आप को इस समस्या से बचा है

  • रोगी के ज्यादा मिर्च मसालेदार भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को ज्यादा मिठाई वह तले हुए भोजन से परहेज करना चाहिए
  • रोगी को फास्ट फूड का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए
  • रोगी को ज्यादा उत्तेजक पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को शराब बीड़ी सिगरेट तंबाकू खैनी पान गुटखा आदि नशीली चीजों से परहेज करना चाहिए
  • रोगी को दूषित पानी दूषित भोजन के सेवन से बचना चाहिए
  • रोगी को अलग-अलग प्रकार की तासीर वाले भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को लगातार किसी एक प्रकार की एलोपैथिक दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए
  • रोगी को सिर में खुजली व जलन की समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए
  • आपको अलग-अलग प्रकार के झाड़-फूंक में आदि में विश्वास नहीं करना चाहिए
  • आपको दूषित क्षेत्र व दूषित जगह पर काम आदि करने से बचना चाहिए आपको

सिर में फुंसी को ठीक करने का घरेलू उपचार

Home remedies to cure pimples on head in हिंदी अगर आपके सिर में जलन व खुजली की समस्या हो जाती है तब आप इसके उपचार के लिए कुछ घरेलू चीजों व आयुर्वेदिक औषधियों का इस्तेमाल करके भी इस समस्या से आसानी से छुटकारा पा सकते हैं जैसे

  • आपको पुदीने की पत्तियों को उबालकर उसमें एलोवेरा मिलाकर घोल बनाकर अपने सिर व फुंसियों के ऊपर लगाना चाहिए
  • रोगी को अदरक के रस को अपने मुहांसों वह फुंसियों के ऊपर लगाना चाहिए क्योंकि यह एक प्रकार की बैक्टीरिया से लड़ने वाली दवाओं की तरह काम करता है
  • रोगी को बेकिंग सोडा अपने सिर व मुहांसों के ऊपर लगाकर मालिश करनी चाहिए यह भी आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है
  • रोगी को मेथी के भीगे हुए दानों का लेप बनाकर अपने बालों में लगाना चाहिए और उसके बाद अपने बालों को अच्छी तरह धो लेना चाहिए
  • रोगी को हल्दी का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि हल्दी भी एक प्रकार की दवाई की तरह काम करता है क्योंकि हल्दी में प्रचुर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट व एंटी इन्फ्लेमेटरी पाया जाता है जो कि आपके मुहांसों वह फुंसियों से लड़ने में मदद करता है
  • रोगी को दही और शहद को मिलाकर पेस्ट बनाना चाहिए फिर उस पेस्ट को अपने सिर में लगभग 30 से 45 मिनट तक लगाए रखना चाहिए और उसके बाद में अपने सिर को अच्छी तरह धो लेना चाहिए यह भी आपके सिर की जलन को कम करने में मदद करता है और इससे आपके सिर में खुजली भी नहीं होती
  • आपको नीम की पत्तियों के उबले हुए पानी से स्नान करना चाहिए यह भी आपके लिए फायदेमंद होता है या आपको नीम की पत्तियों को रगड़ का अपने सिर में लगाना चाहिए

लेकिन फिर भी अगर आपके सिर में बार-बार यह समस्याएं उत्पन्न हो रही है तब आपको कुछ शरीर के टेस्ट करवाने की जरूरत होगी क्योंकि कई बार यह समस्या आपके शरीर में किसी अन्य समस्या के कारण भी उत्पन्न होने लगती है

या आप कुछ आयुर्वेदिक औषधियों में दवाइयों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं जिनके बारे में हमने आपको नीचे बताया है इन सभी को आप डॉक्टर की सलाह के अनुसार इस्तेमाल करें

सिर में जलन में खुजली के कारण लक्षण बचाव व उपचार सिर में खुजली के घरेलू उपाय सिर में खुजली के कारण सिर में खुजली की होम्योपैथिक दवा सिर की त्वचा में दर्द सिर की त्वचा के स्वास्थ्य के लिए क्या किया जाता है सिर में सफेद पपड़ी खुजली होने के कारण सिर में दाने का इलाज सिर में खुजली और बाल झड़ना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button